Makkumath

मक्कू मठ – भगवान तुंगनाथ का शीतकालीन प्रवास

भगवान तुंगनाथ जी की डोली – शीतकाल में तुंगनाथ के कपाट बंद होने के बाद मक्कु में लायी जाती है। और यहाँ के प्रसिद्ध मक्कुमठ में स्थापित की जाती है।

chandrashila trek

चंद्रशिला ट्रेक – तुंगनाथ से

ट्रेक करने के बाद पहुंचे – चोटी में स्थित – चंद्रशिला, यहाँ से चारों ओर का खुला panoramic दृश्य। जहाँ से बस थोड़ा ही दूर आसमान, हिमालय सामने और बाकी सब नीचे, और यहाँ पर अपने जीवन के कुछ सबसे बेहतरीन पलों में से एक का आनंद उठाते लोग।

Chopta/ Tungnath

चोपता से तुंगनाथ ट्रेक

चोपता नाम आते ही – प्रकृति प्रेमियों के ध्यान में आता हैं – खूबसूरत घास के मैदान, सुन्दर वनाच्छादित क्षेत्र, स्वास्थ्यप्रद आबोहवा, स्वच्छ, और शांत वातावरण.

हिमालय और पहाड़ियों के साथ यहाँ प्रकृति के अतुलनीय इस रूप, जैसे यहाँ ईश्वर ने कुछ अपने सबसे खूबूसरत चित्रों को यहाँ रख दिया हो,.

पाताल भुवनेश्वर गुफ़ा

पाताल भुवनेश्वर देवदार के घने जंगलों के बीच अनेक भूमिगत गुफ़ाओं का समूह है | जिसमें से एक बड़ी गुफ़ा के अंदर शंकर जी का मंदिर स्थापित है । 2007 से यह गुफा मंदिर – भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा सरंक्षित हैं।

href=”https://www.youtube.com/popcorntrip?sub_confirmation=1″>Please Subscribe our You Tube channel

गंगोत्री धाम Travel Guide

गंगोत्री गंगा नदी का उद्गम स्थल, समुद्र तल से 3042 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। उत्तराखंड के चार धाम में से दूसरा धाम, तीन अन्य धामों यमुनोत्री, केदारनाथ उयर बद्रीनाथ पर हम इस चैनल मे विडि यो बना चुके हैं, इस विडियो मे जानेंगे, गंगोत्री मंदिर के बारे मे, यहाँ कैसे पहुचे, कहाँ रुकें और यहाँ का मौसम, यहाँ आने का सही समय और देखेंगे यहाँ के कुछ सुंदर दृश्य!

यमुमोत्री धाम ट्रैवल गाइड

उत्तराखंड के चार प्रमुख धामों में से एक – यमुनोत्री यमुना नदी का उद्गम स्थल और देवी यमुना का वास स्थल है। यह भारत में उत्तराखंड राज्य में गढ़वाल मण्डल के उत्तरकाशी जनपद में हिमालय की गोद में, 3,291 मीटर (10,797 फीट) की ऊंचाई पर स्थित है।

Naukuchiyatal lake

Naukuchiatal नौकुचियाताल

हरे भरे जंगल और पहड़ियों से घिरा सुंदर और शांत स्थल हैं नौकुचियाताल।

नौकुचियाताल प्रकृतिक रूप से बेहद सुंदर जगह हैं, अपनी सुरम्यता के साथ यह जगह जानी जाती हैं, यहाँ फ़न और adventure की कई एक्टिविटीज करते हुए यादगार समय बिताया जा सकता हैं।

Nepal

नेपाल (Nepal Travel Guide)

सैर कीजिये काठमांडू, पोखरा, देखिये बनबसा सीमा से प्रवेश कार द्वारा प्रवेश की औपचरिकताए, भन्सार शुल्क (Custom permision fee) , आरटीओ शुल्क और नेपाल का सुंदर वर्णन।

TajMahal

ताजमहल (Tajmahal Travel Guide)

ताजमहल के सामने बने  विशाल गेट से –  प्रवेश कर – सामने सफ़ेद  इमारत देखते ही आप दुनिया  के उन कुछ लोगो में शुमार हो  जाते हैं – जिन्होंने बेमिसाल ताज  का दीदार किया है।

Nainital Zoo

नैनीताल की खूबुसरती को सबसे पहले दुनिया से परिचित कराने और नैनीताल को बसाने का श्रेय अंग्रेज़ यात्री, लेखक और व्यापारी पी बैरन को जाता हैं, वे अपनी यात्राओं अनुभव से जुड़े लेख विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में पिल्ग्रिम नाम से भेजा करते थे।